Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta 1

Share

Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta केर भितरे हामरे देखब कि पंचपरगनिया भासा टा आर’ अइन’ भासा ले का रकम आलेदा आहे। इ आलेख टाएं किबल पंचपरगनिया भासा केर धउनिगत बिसेसता केरे चरचा करल जातेहे।

आपन मनेक हिंछा के दसर लग ताहाँ तक पहँचाएक एकटा नामकरा आर परमुख आधार भासा हेके। भासा सामाज केर आत्मा हेके। कहल’ जाए आहे भासाक बिना सउब कुछ दरपुरा आहे। भासाक बिना सामाज केर करा – कल्पना करा दाए काथा हेके।

पंचपरगनिया झारखंड केर एकटा नामकरा छेतरिअ भासा हेके। पंचपरगनिया, पाँचपरगना समेत एकर बिरहत छेतर’ मेंहेन बस’बास कर’इआ भिनु – भिनु जाइत गिलाक जातिगत भासाक मिलल रूप हेके।

पहिलुक जमानाएँ हर जाइत (कबिला) केर आपन – आपन भासा रहत रहे आर हर भासा केर आपन – आपन भासाइक धउनि तंतर’, धउनि बेब’स्था, भासा केर पर’किरिति, भासा केर सरूप, सबदेक रचना, बाइकेक रचना, अरथ’ लेएक सक्ति, भाउ अभिबेंजना एमाइन’ अलग रहे। इ रकम एक कबिला केर लग दसर कबिला केर भासा नि बुझे पारत रहेन ।

किंतु आस्ते – आस्ते उ कबिला गिलाएँ एक दसर संग लेउआ – देउआ आर संपरक’ बाढ़ते गेलक आर इ रकम इमनेक मांझे आपस मेंहेन संपरक’ करेक तेहें एकटा नाउआ भासाक जनम हए ह’इ जेटा सउब लग (जाइत) केर तेहें सुलभ आर संपरक’ भासा बइन हइ ।

WhatsApp Image 2022 06 09 at 1.58.58 PM
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta

बाद मेंहेन इ भासा टाएँ आर’ अइन’ भासाक सब्दाउलिअ जड़ाते गेलक संगे – संगे बाहिर ले आल लगेक भासाउ इटाएँ जड़ाते गेलक । इ रकम भाभे छेतर’ बिसेस मेंहेन एकर नामकरन अलग – अलग हलक जेसन झारखंड मेंहेन पंचपरगनिया, नागपुरी, खोरठा एमाइन ।

इ रकम कहल जाए पाराए कि झारखंड छेतर’ आर एकर आसे – पासे जतनाइ छेतरिअ भासा आहे उगला उ छेतर’ बिसेस मेंहेन बस’बास कर’इआ भिनु – भिनु जाइत केर जातिगत भासा ले बइन आहे । काहेकि हर छेतर’ केर छेतरिअ भासा मेंहेन उ छेतर’ बिसेस केर जातिगत भासाक लसिंद देखल जाए पाराए।

जेसन पंचपरगनिया मेंहेन कुड़मि, मुंड़ा, आर हिंआ बस’बास कर’इआ अइन’ जाइत गिलाक भासा । इकर अलाउआ पंचपरगनिया मेंहेन बांगला आर उड़िया केर’ बिसेस लसिंद देखाएला।

एबार इ रकम ‘पंचपरगनिया’ जेसन नाम लेइ पाता चलेला कि इटा ढेइर भासा केर मिसरन हेके । अहे तेहें इकर धउनि तंतर’, धउनि बेब’स्था, भासाक धचर, सरूप, सबदेक गढ़न, बाइकेक गढ़न, भाउ अभिबेंजना एमाइन अनेक आधारे अइन’ भासा संग समानताउ हए पारे हुआंइ काहंु – काहुं असमानताउ देखाए पारेला ।

Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta ker Jankari : पंचपरगनिया भासा केर आलेदा – आलेदा बिसेसता

पंचपरगनिया भासा केर आलेदा – आलेदा बिसेसता गिला के अइधन केर सुबिधा अनुजाइ तिन भागे देखाल जाए पाराए धउनिगत बिसेसता, भासागत बिसेसता आर बेआकर’निक बिसेसता । किंतु इ आलेख मेंहेन किबल धउनिगत बिसेसता केरे चरचा करल जातेहे ।

Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta ker Jankari : धउनिगत बिसेसता

पंचपरगनिया भासा मेंहेन उचारित हउअ’इआ धउनि ले संबंधित बिसेसता गिला के धउनिगत बिसेसताक भितरे राखल जाए आहे जेगिला इ रकम आहे –

पंचपरगनिया भासा के मुल रूपे देवनागरी लिपिइं लिखल जाएला । बांगाल झारखंड सिमाना छेतर’ मेंहेन काहंु – काहुं बांगला लिपि केर’ चलन देखे पाउआएला । पंचपरगनिया भासा केर आपन लिपिअ (झाड़ लिपि) आहे । झारखंड छेतर’ मेंहेन पंचपरगनिया भासाक पठन – पाठन करेक तेहें देवनागरी लिपि केरे बेब’हार करल जातेहे, इ रकम पंचपरगनिया भासाक धउनि तंतरक अनुजाइ देवनागरी लिपिक सभे बरनक बेब’हार ना कइर कहन किछुएक बरन’ केरे बेब’हार करल जाएला । इ भाभे पंचपरगनिया भासाएं बेब’हार हउअ’इआ देवनागरी लिपिक बरन’ गिलाक जिकिर करना जरूरि हेके –

सउब ले पहिल हामरे देवनागरी लिपि केर स्वर बरन’ गिला के जाइन लेतिहि :-

देवनागरी लिपि केर सअर बरन’ – अ आ इ ई उ ऊ ऋ ए ऐ ओ औ

अजगबाह बरन’ – अं अः

  • पंचपरगनिया मेंहेन उचारन हउअ’इआ बरन’ मेंहेन दिरघ’ सअर केर उचारन बहुत कम मातराएँ हएला । बिदुआन लगेक मत हेके कि पंचपरगनिया केर धउनि सहज आर सरल उचारन हएला । इ रकम पंचपरगनिया मेंहेन देवनागरी केर दिरघ’ सअर ‘ई’ ‘ऊ’ केर उचारन बहुते कम मातराएँ करल जाएला । जदि दसरा भासाक असन सब्द’ जेगिला ‘ई’ आर ‘ऊ’ जुकत’ आहे त’ उगलाके पंचपरगनिया मेंहेन आपन धउनि तंतरक अनुजाइ ‘इ’ आर ‘उ’ मेंहेन बदलि कहन उचारन करल जाएला आर लेखन मेंहनउ एसने बेब’हार करल जाएला । जेसन – ईख – इख (कातारि), ऊन – उन एमाइन ।
  • पंचपरगनिया मेंहेन देवनागरी केर ‘ऋ’ धउनिक उचारन नि हएला, ऋ धउनिक उचारन पंचपरगनिया मेंहेन ‘रि’ चाहे ‘री’ (कबउ – कबउ) रकम हएला अहे तेहें पंचपरगनिया लेखन मेंहेन ‘ऋ’ केर बदले ‘रि’/‘री’ केर बेब’हार करल जाएला । एकर अलाउआ हिंदी केर असन सब्द’ जेगिलाएँ ‘ऋ’ केर मातराक ( ृ ) बेब’हार करल जाएला उगला तत्सम (संस्कृत) सब्द’ रहेला, एसन सब्द’ गिलाके पंचपरगनियाए आपन धउनि तंतरक अनुजाइ ( ृ ) मातरा ना लागाए कहन ‘रि’/‘री’ मेंहनेइ काम चालाल जाएला । जेसन – ऋ बरन’ ले सुरू हउअ’इआ सब्द’ – ऋण – रिन, ऋषि – रिसि, ऋतू – रितु, ऋजू – रिजु, ऋचा – रिचा एमाइन ।
  • ऋ मातरा आउला सब्द’ – कृपा – किरपा, कृष्ण – किस्न’, मृत – मिरित, पृथ्वी – पिरथिबि, नृत्य – निरित एमाइन ।
WhatsApp Image 2022 06 09 at 1.58.58 PM 1
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta :- पंचपरगनिया मेंहेन ‘ओ’ केर उचारन ‘अउ’ चाहे ‘अ’ लेइ हएला । हालांकि पंचपरगनिया केर किछु बिदुआन इटाएँ हमान नेखएँ आर ‘ओ’ केरे बेब’हार ठिक मानएँला । हिंदी मेंहेन ‘ओ’ केर उचारन अठ केर इसतिथिक आधारे गल (वृतमुखी) आर मुं टा खलाएक आधारे आधा बंद (अर्ध संवृत) रहेला किंतु पंचपरगनिया मेंहेन ‘ओ’ केर उचारन अठ केर इसतिथिक आधारे चेपटा ;व्अंसद्ध (अवृतमुखी) आर मुं टा खलाएक आधारे आधा खुला (अर्ध – विवृत . भ्ंस िव्चमद) रकम हएला इआनि ‘ओ’ केर उचारन ‘अ’ रकम हएला । इआनि कहल जाए पाराए कि ‘ओ’ हिंदी केर रकम उचारन पंचपरगनिया मेंहेन ‘अ’ लेइ हए जाएला काहेकि पंचपरगनिया बरन’ केर उचारन मेंहेन ‘ो’ (ओकार) मेसल रहेला । जेसन:-
हिंदी मेंहेनपंचपरगनिया मेंहेन
लोग, खोज, लोभलग, खज, लभ
खोल, जोर, ओड़खल, जर, अड़
ओदा, ओसन, (ऐसा) कोड़ो (बतख)अदा, असन, कड़’
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
  • पंचपरगनिया मेंहेन ‘ऐ’ धउनि केर उचारन ‘अइ’ चाहे ‘अए’ रकम हएला अहे तेहें ‘ऐ’ बरन’ केर बेब’हार नि करल जाएला, इ रकम ‘ऐ’ केर बदलि रूप ‘अइ’/‘अए’ हएला । जेसन – पैसा – पइसा/पएसा, कैसे – कइसे/केसे, थैला – थइला, मैला – मइला, शैतान – सएतान, भैया – भइआ, फैसला – फइसाला, मैदा – मइदा/मएदा, गैर – गइर एमाइन ।
  • पंचपरगनिया मेंहेन ‘औ’ केर उचारन इकर आपन धउनितंतरक अनुजाइ ‘अउ’ रकम हएला । जेसन – फौजी – फउजि, चौका – चउका, दौलत – दउलत, कौआ – कउआ, चौकी – चउकि एमाइन ।
  • पंचपरगनिया मेंहेन देवनागरी लिपि केर अजगबाह बरन’ ‘अः’ (बिसरग’) केर उचारन ‘अह’ केर रकम हएला । इ रकम ‘अः’ बरन’ केर पंचपरगनिया मेंहेन कन’ बिसेस बेब’हार नि देखे पाउआएला ।
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta :- पंचपरगनिया मेंहेन देवनागरी बरन’ केर अनुनासिक बेंजन ‘ङ’ ‘´’ केर बेब’हार अउजि (विकल्प) रूपे अनुसअरेइ ( ं ) हएला । इ दुइअ धउनि केर लेकहन भासाबिद केर कथन इ रकम आहे

‘‘चपरगनिया मेंहेन ‘ङ’ आर ‘ञ ‘ केर उचारन कहेक माहान हएला, किंतु लिखेक मेंहेन इगलाक अउजि ‘न’ ( ं ) अनुसअर केर बेब’हार हएला । जेसन – गङगा – गंगा, चं ञ ल – चंचल ।

महतो, परमानंद, ‘‘ पंचपरगनिया भाषा’’, जनजातीय भाषा अकादमी, बिहार सरकार, राँची, 1990, पृष्ठ -89
  • हुंआइ ‘ण’ केर’ पंचपरगनिया मेंहेन ठिक लेखेर उचारन नि हएला, इ रकम एकर बदले ‘न’ चाहे ( ं ) केरे बेब’हार करल जाएला । जेसन – भाषण – भासन, गुण – गुन, प्रणाम – परनाम एमाइन ।
WhatsApp Image 2022 06 09 at 1.58.58 PM 2
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta

देवनागरी लिपि केर अन्त’अस्थ’ बेंजन ‘य’ आर ‘व’ केर उचारन पंचपरगनिया मेंहेन ‘इअ’/‘एअ’ आर ‘उअ’ केर रूप मेंहेन हएला जेसन – दया – दएआ, माया – माएआ, हिंया – हिंआ, सेवा – सेउआ, बावन – बाउअन, एकावन – एकाउअन, बावना – बाउना एमाइन । किंतु इटाक संबंधे पंचपरगनिया केर सउब बिदुआन एक मत नेखएँ । कहल जाए पाराए कि पंचपरगनिया मेंहेन इटाक संबंधे मानकिकरन नि करल जाए आहे, अहे तेहें अलग – अलग बिदुआन आपन अनुजाइ लेखन कर’एँला ।

Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- हिंदी केर असन सब्द’ जे गिला ‘य’ आर ‘व’ ले सुरू हएला उगलाक उचारन पंचपरगनिया भासा मेंहेन करमस’ ‘ज’ आर ‘ब’ हएला । किंतु सब्द’ केर मांझे चाहे आखरिइं रहले ‘य’ केर ‘इअ’/‘एअ’/‘इ’/‘ए’ आर ‘व’ केर ‘उअ’ हए जाएला (काँहुं -काँहुं ‘य’ माझे रहलउ एकर उचारन ‘ज’ हएला जेसन संयोग -संजग) । ‘य’ धउनि केर संबंधे बिदुआन केर मत इ रकम आहे –

यह मातृकावर्ण नहीं है । ‘‘पदान्ते पदमध्यस्थे य-कार इअ उच्यते’’ अर्थात किसी शब्द के आदि में रहने पर ‘य’ अक्षर का उच्चारण लघु ‘ज’ (जीभ को दाँत की नीचली पंक्ति के मसूढ़े छुआकर इस प्रकार का उच्चारण होता है । वर्गीय ‘ज’ का उच्चारण गुरू ‘ज’ है । जीभ को दाँत की उपरी पंक्ति के मसूढ़े से छुआकर गुरू ‘ज’ उच्चारित होता है ।) मध्य में और अन्त में रहने पर उच्चारित होता है ‘इअ’ ।

सरकार, श्री प्रभात र´्´न, शब्द चयनिका, आचार्य विजयानन्द अवधूत, कलिकाता, प्रथम संस्करण, 1995ए पृष्ठ-385

कहेक मतलब हेके कि हिंदी मेंहेन ‘य’ बरन’ ले सुरू हउअ’इआ सब्द’ मेंहेन ‘य’ केर उचारन लघु ‘ज’ रकम हएला किंतु पंचपरगनिया मेंहेन एकर उचारन गुरू ‘ज’ रकम हएला । इ रकम पंचपरगनिया मेंहेन इगलाक उचारन आपन धउनि तंतरक अनुजाइ हएला । जेसन – युग – जुग, योजना – जजना, यात्रा – जातरा, वर – बर, विवाह – बिबाह (बिहा) विनती – बिनति, समय – समइ/समए, यदि – जदि, कायदा – काएदा, दुनिया – दुनिआ, अक्षय – अछए/अखए, पंचायत – पंचाइअत एमाइन ।

‘य’ आर ‘व’ बरन’ केर संबंधे बिदुआन केर मत इ रकम आहे –

‘‘पंचपरगनिया मेंहेन ‘य’ केर उचारन इ+अ हएला, मुदा लिखित रूपे इ, अ, ए रूपे लिखल जाएला । हुंआइ ‘व’ केर उचारन बेब’हारिक रूपे उ+अ करल जाएला ।’’

महतो, डाॅ. दिनबंधु, साछातकार
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- पंचपरगनिया मेंहेन देवनागरी लिपि केर उसुम बेंजन केर भितरे आउअ’इआ ‘श’ आर ‘ष’ केर उचारन ठिक लेखेर नि हएला अहे तेहें लेखन मेंहेन किबल ‘स’ बरन’ केरे बब’हार करल जाएला । हिन्दी केर असन सब्द’ जेगिलाएँ ‘श’ आर ‘ष’ केर बेब’हार करल जाए आहे उगलाके पंचपरगनियाएँ आपन धउनि तंतरक अनुजाइ ‘स’ मेंहेन बदलि के उचारन आर लेखन करल जाएला । जेसन – मनुष्य – मानुस, भेष – भेस, देश – देस, भाषा – भासा, दशा – दासा एमाइन ।
  • पंचपरगनिया भासा मेंहेन हिंदीक रकम संजुक्त’ बरन’ (दुइ बरन’ केर मेले बनल बरन’) केर बेब’हार नि करल जाएला । जेसन – क्ष+ष = क्ष, त्+र = त्र, ज्+ञ ´ = ज्ञ, श्+र = श्र एमाइन । आसल मेंहेन पंचपरगनिया भासाएँ देवनागरी लिपि केर दुइ चाहे दुइ ले बेसि आछर केर तेहें कन’ एक समान धउनि उचारन नि करल जाएला आर ना एक समान धउनि केर तेहें अलग – अलग लिपि चिन्हाक बेब’हार करल जाएला । जेसन न’ कि हिंदी मेंहेन करल जाएला – ‘श’ ‘ष’ आर ‘स’ तिन’ केर, ‘न’ आर ‘ण’ दुइअ केर, ‘क्ष’ आर ‘छ’ दुइअ केर मटामटि एक समान धउनिक उचारन करल जाएला । इ रकम भाभे उपरेक संजुक्त’ आछर गिलाक तेहें पंचपरगनिया भासा मेंहेन हेंठे देल अउजि बरन’ गिलाक बेब’हार करल जाएला ।
संजुक्त’ आछरपंचपरगनिया
क्ष – शिक्षाछ/ख – सिछा/सिखा
त्र – त्रिशुलतर’ – तिरसुल
ज्ञ – ज्ञानगेअ – गेआन
श्र – श्रवणसर’ – सरबन
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
WhatsApp Image 2022 06 09 at 1.58.58 PM 4
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta

इन्हे भी देखें :-

  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- इ रकम पंचपरगनिया बेंजन बरन’माला मेंहेन किबल मुल बेंजन धउनि आछर केरे बेब’हार करल जाएला इआनि इटाएँ दुइ चाहे दुइ ले बेसि बरनक मेल ले बनल आछर केर बेब’हार नि करल जाएला । जेसन हिंदी बरन’माला केर किछु दुइ बरन’ ले बनल आछर इ रकम आहे –
द+ध् = द्ध, त+त् = त्त
द+व् = द्वद+द् = द्द
द्+य = द्यद्+म = द्म
ह+म् = ह्मन्+न = न्न
ट+ट् = ट्टड+ड् = ड्ड
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- इ रकम दुइ बरनक मेल ले बनल आछर केर बेब’हार पंचपरगनिया मेंहेन नि हएला । इ रकम केर सब्द’ पंचपरगनिया भासा मेंहेन इआ त’ आलेदा आहे चाहे जदि एहे गिला केर बेब’हार करल जाए त’ इगलाक उचारन पंचपरगनिया भासाएँ आपन धउनि तंतरक अनुजाइ हएला । जेसन –
हिन्दी पंचपरगनिया
उद्धारउधार
विद्वानबिदुआन/माइनकरा
उद्देश्यउदेस/धेउ
काव्यकाइब
उच्चारणउचारन
स्वरूपधचर/सरूप
अच्छाआछा/बेस
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- जदि पंचपरगनिया सब्द’ केर आखिरे चाहे मांझे बेंजन जुक्त’ ‘अ’ केर उचारन हएला आर उटाएं अल्प’ जर पड़ेला त’ उ आछर केर उपरे ( ’ ) (अपोस्ट्रोफी) चिन्हा केर बेब’हार करल जाएला – जेसन – कन’, करम’, धरम’, सँच’तहँ’, अरथ’ एमाइन । हिंआ कन’, करम’, धरम’, सँच’तहँ’ आर अरथ’ के पंचपरगनिया उचारन केर अनुजाइ कोनो, करमो, धरमो, सोंचोतोहों आर अरथो लिखब हले उचारन मेंहेन सुइधता नि रही । अहे तेहें जाहाँ – जाहाँ बल लागेला हुआँ – हुआँ आछर केर उपर ( ’ ) चिन्हाक बेब’हार करले सब्द’ केर उचारन मेंहेन सुइधता बनल रहि ।
  • हिंदी मेंहेन ‘र’ केर उचारन ढेइर रकम केर हएला जेसन – मात्रा, प्रथम, नर्म, ट्रक, दृश्य, राष्ट्रपति, टेªन एमाइन । किंतु पंचपरगनिया मेंहेन इ रकम केर ढेइर ‘र’ केर उचारन नि हएला । पंचपरगनिया केर सब्द’ सहज आर सरल उचारन हएला, इ रकम पंचपरगनिया मेंहेन किबल ‘र’ बरन’ केरे बेब’हार करल जाएला । इ रकम उपरेक सब्द’ गिला एसन भाभे हइ – मातरा, परथम, नरम, टाराक, दिरिस, रास्ट’पति आर टेरेन ।
  • पंचपरगनिया भासाक सब्द’ केर उचारन करेक समइ कन’ भि धउनि केर लप (लुकाल) नि करल जाएला । बलकि लिखल सभे आछर केर पुरन’ रूपे उचारन करल जाएला । इआनि असन बरन’ केर बेब’हारे नि करल जाएला जेगिलाक उचारन नि करल जाएला । हिंदी चाहे अंगरेजि एमाइन भासा केर किछु सब्द’ मेंहेन किछु धउनि के लप (लुकाए) कइरके चाहे उकर जाएगाएं दसर धउनि केर उचारन करल जाएला । जेसन – । Action, Watch, Knife, Talk, Lock मेंहेन लाघालाइघ T, T, K, L, C केर लप (लुकल) आहे । किंतु पंचपरगनिया मेंहेन सउब बरन’ के बेब’स्थित करम मेंहेन उचारित करल जाएला । एसन टांए उचारनिक एकरूपता देखे पाउआएला ।

बिदुआन केर अनुजाइ पंचपरगनिया मेंहेन इसपरस’ बेंजन केर पंचम बरन’ संजुक्ताछर मेंहेन, अनुसअर ( ं ) केर रूप मेंहनेइ लिखल जाएला – जेसन – अंक, कुंजि, संठ, दंत, लांबा एमाइन ।

महतो, परमानंद, ‘‘पंचपरगनिया भषा’’ जनजातीय भाषा अकादमी, आदिवासी कल्याण आयुक्त, राँची, 1990, पृष्ठ-62
WhatsApp Image 2022 06 09 at 1.58.58 PM 5
Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta
  • Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- चपरगनिया भासा मेंहेन ‘ड़’ आर ‘ढ़’ धउनि ले बनल सब्द’ बेसि भागे देखल जाएला इआनि पंचपरगनिया में ‘ट’ बरग’ केर बहुलता आहे । जेसन –

‘ड़’ धउनि ले उचारित हउअ’इआ पंचपरगनिया केर सब्द’ –

  • गड़, आइड़, बेड़ा, गड़ा, आंड़रा, भेड़ा, नुड़ा, इंड़राएक, तड़ा, पंड़कि, कांड़, मांड़, काड़ा, घड़ा, चड़-चड़ि, लुड़-लुड़ी, चांड़, चिथड़ा, जाड़, जड़ि, लड़ि, झागड़ा, झुड़ि, झइड़, चांड़, जाभड़, पाइड़, लेड़हा, खेड़ा, जांगड़ा, बाड़ा, बड़ि, भंसड़ि, मुड़, हाड़ि, बड़, बगड़ा, एंड़िआ, ढाइड़, डाड़ि, कड़, ताड़, फाड़, फाड़ा, तागड़ा, बिड़िं, बिंड़ा, पींड़, लुंड़, भथड़, हाड़, घड़-घड़ि, चुंड़, गेड़ा, गेड़ि, उंड़, चुड़ु, धाड़-धाड़, माड़ि, गाड़ी, डाड़ि, गेंड़सि, संड़सि, एंड़रि, उड़िस, माकड़ा, खाँड़ा, खड़म, खेइड़का, चांड़ आड़ास, चाड़ु, लाड़ु, डुंड़का, टंड़रा, ठाड़, डंड़का, ढंड़, ढुड़सा, धाड़पा, माकड़ा, दड़रा, धाड़ाम, पंइड़का, डेइड़का, कड़अ, जड़अ, हाड़का, हांड़िआ, माड़आ, सड़प, सड़प, हेंड़रे, हुड़का, जांगड़ा, फड़ा, खेंड़रे, हंड़ुआ, छामड़ा, माड़ा, काड़ा, दड़ा, रांड़ा, डांड़ुआ, मेड़, डेंइड़का, मुसड़ा, मुड़रा, बगड़ल, गेंजेड़, दड़हअ, हांड़ि, डांड़ि, खड़रअ, खेड़िआ, ढंड़-कुड़मि, कड़िआहि, चाड़ु, चुड़ु, भंुसड़ि, खड़रअ, रांड़ा, रांड़ि, तुंड़ि, मुड़ी, मचड़ेक, धुड़सेक, थेसड़ा, मचड़ाएक, गुड़केक, आंड़ा, आंड़राएक, बाड़ि एमाइन – एमाइन ।

Panchpargania Bhasa Ker Best Bisesta:- ‘ढ़’ ‘ढ’ धउनि ले उचारित हउअ’इआ पंचपरगनिया केर सब्द’ –

कढ़ि, ढंढ़ि, लढ़ि-पाटि, मेंढ़ा, ढढ़ा, मुढ़ा, चेढ़ा, ढल, ढेलका, ढेपसा, अढ़ाइर, दढ़अ, खाढ़ा, गाढ़ा, ढेनाहा, ढेंसनाप, ढंड़, ढड़रि, ढेइर, ढासना, ढनगल, ढिपा, ढुंसेक, ढारेक, ढांगा, ढांगि, ढंग, ढाक, ढाइड़, ढारेक, ढाकि, बाढ़ेक, बाढ़िन, साढ़ु, सांढ़ा, सांढ़, बुढ़ा, बुढ़ि, खेड़ेक, लेढ़ा, ढामना, ढासना, दाढ़ि, काढ़ानि, ढाड़ाएक एमाइन – एमाइन ।

सारांश

इ रकम भाभे पंचपरगनिया भासाक आपन आलेदा धउनिगत बिसेसता देखे पाउआएला । एसे त’ पंचपरगनिया केर आपन लिपि ‘झाड़’ लिपि आहे किंतु एखन तक एकर बेब’हार पठन – पाठन मेंहेन नि करल जाए आहे । एखन इ भासा टाकेर झारखंड मेंहेन पठन – पाठन हए लाइग आहे किंतु आपन धउनि तंतरक अनुजाइ देवनागरी लिपि केरे किछु बरन’ के छाइड़कहन चाहे उगलाक अउजि रूप गिलाक बेब’हार करल जातेहे ।

हुंआइ एक आद धउनि केर अनुरूप, देवनागरी मेंहेन लिपि चिन्हा ना रहेक कार’ने कन’ बिसेस रकमेक चिन्हाक बेब’हार करल जातेहे जेटा सउब केर तेहें सुलभ आर माइन’ आहे । इ रकम इ भासा टाएं ढेइर रकमेक धउनिगत बिसेसता आहे जेगिलाक दाराएं इ भासाटा अइन’ भासा ले आलेदा बनेला ।


Share

Leave a Comment